भारत में ड्रॉपशीपिंग बिजनेस के द्वारा 2020 में पैसे कैसे कमाए | How To Earn Money From Dropshipping Business In 2020 In Hindi

How To Earn Money From Dropshipping Business In 2020 In Hindi

एक भारतीय के रूप में आप भारत में एक व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे है तो अभी आपके पास समय है। आपको बता दे की भारत में इंटरनेट के माध्यम से ईकॉमर्स वेबसाइट पर खरीदारी बढ़ रही है।

यह पूर्ण तरीके से विश्वसनीय अनुमान है और यह दवा है की आने वाले वर्षो के लिए यह जारी रहेगी। इसलिए ड्रॉपशीपिंग सबसे अच्छा तरीका है जिससे आप हमारे देश में इस ईकामर्स बूम से लाभ उठा सकते हैं।

 

How To Earn Money From Dropshipping Business In 2020 In Hindi

 

हालाँकि आपके मन में कई प्रश्न उठ रहे होंगे की यह व्यवसाय कैसे शुरू करें? इस व्यवसाय में क्या करना है? वगैहरा – वगैहरा। आपको करना यह है की आपको सिर्फ इस लेख को पढ़ते रहना है और आप स्वतः ही जान जाएंगे की 2019 में ड्रॉपशीपिंग के माध्यम से आप पैसा कैसे कमा सकते है।

मैं इसलिए वर्ष 2019 की बात कर रहा हूँ, क्यों की यह लेख हल ही के मौजूदा नियमों और विनियमों पर आधारित हैजो भारत में मौजूदा ईकामर्स और ड्रॉपशीपिंग को कवर करते हैं। आपको पता ही होगा की हमारी भारत सरकार कभी भी इन कानूनों में संशोधन कर सकती है।

आप 2019 में भारत में ड्रॉपशॉपिंग कैसे शुरू कर सकते है आइए निचे लिखित जानकारी के माध्यम से जाने।

 

>>ड्रॉपशीपिंग की सरल शब्दों में परिभाषा-

 

ड्रॉपशीपिंग एक प्रकार का ऑनलाइन रिटेल बिज़नेस है जो पारंपरिक ऑनलाइन ई-कामर्स स्टोर जैसे अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट के अलावा अन्य से बहुत अलग है।

  • एक कंपनी या व्यक्ति जो ड्रॉपशीपिंग व्यवसाय के लिए कार्य करता है, उसे ‘ड्रॉप शिपर’ के रूप में जाना जाता है।
  • ड्रॉपशीपिंग व्यवसाय हमेशा ऑनलाइन होता है। इसलिए आपको स्वयं की वेबसाइट की आवश्यकता होगी जिस पर आप अपने उत्पादों को बेच सकें।
  • इसके अलावा आप Facebook, Shopify, Etsy, और अन्य समान प्लेटफॉर्म पर बाजार खोल सकते है और आप उन उत्पादों के चित्रों, मूल्यों,विवरणों का विज्ञापन कर उन्हें बेच सकते है।
  • ड्रॉपशीपर के रूप में आपको अपने द्वारा किसी प्लेटफॉर्म पर बेची जाने वाली वस्तुओं के स्टॉक या इन्वेंट्री नहीं रखनी चाहिए।
  • जब एक बार आपको कार्य के दौरान ऑर्डर और भुगतान मिल जाता है, तो आप इसे भारतीय या विदेशी आपूर्तिकर्ता को दे देंगे।
  • इस कार्य में आप अपने ग्राहकों के लिए कम कीमत पर आपूर्ति के लिए भारतीय या विदेशी स्टोर से उत्पाद खरीदेंगे। तथा इन वस्तुओं को अपनी स्वं की ड्रॉप शिपिंग वेबसाइट पर अधिक कीमत पर बेच रहे होंगे।
  • यह आपूर्तिकर्ता निर्माता या थोक व्यापारी होते है जो आपके भुगतान के बाद सीधे आपके ग्राहक को माल भेजेंगे।

यह थी इस व्यवसाय की मूल बातें, जिनको आप बखूबी जान गए होंगे। अब आगे देखते है की आप 2019 भारत में ड्रॉप शिपिंग व्यवसाय कैसे शुरू कर सकते है।

 

>> भारत में ड्रापशीपिंग बिजनेस शुरू करने की प्रक्रिया

 

इस व्यवसाय को समझना थोड़ा जटिल हो सकता है क्यों की ईकामर्स को नियंत्रित करने वाले मौजूदा नियमों और विनियमों, विदेशों से धन भेजने और प्राप्त करने के प्रोसेस को जानने में आपको थोड़ी कठिनाई उठानी पड़ सकती है। इसलिए भारत में इस व्यवसाय को कैसे शुरू करते है इसके बारे में चरण दर चरण समझे।

 

#. अपना व्यवसाय पंजीकृत करें

 

भारत में अगर आप कोई भी व्यवसाय शुरू करते है तो आपको उसे मौजूदा भारतीय कानूनों के तहत पंजीकृत करना होगा। आपके बिज़नेस को कानून के अनुसार रजिस्टर करने के विभिन्न विकल्प उपलब्ध हैं।

आप अपनी कंपनी को रजिस्टर करने के लिए इंटरनेट पर खोज करके उत्कृष्ट तरीको के बारे में जान सकते है। उनमे से एक तरीके के बारे में हम आपको बताते है, आप कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अपनी किसी भी कंपनी और व्यवसाय को पंजीकृत कर सकते है

आपको बता दें की आपको अपने ड्रॉप शिपिंग व्यवसाय को पंजीकृत करना आवश्यक होता है। अगर आप ऐसा नहीं करते है तो आपको भारतीय सरकारी अधिकारियों के साथ कठिनाई का सामना करना पड़ेगा।

अगर आप अपने व्यवसाय को एक बार पंजीकृत कर लेते है तो आपको केंद्र और राज्य सरकारों से बहुत सारे लाभ मिलने की उम्मीद रहती हैं। इन लाभों में कम ब्याज दरों पर ऋण और कर छूट शामिल हैं।

इस प्रोसेस में सबसे जरुरी बात यह हैं की आप अपने उत्पाद और सेवा की GSTIN पहचान संख्या लेना न भूलें। यह पहचान संख्या भारत में किसी भी उत्पाद को खरीदने और बेचने के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं।

 

#. एक चालू खाता खोलें

 

यह तो आपको भी पता हैं की आप इस व्यवसाय में पैसा बनाने के लिए हैं, इसलिए आपका अगला कदम भारत के किसी भी बैंक में एक चालू खाता खोलना है।

मैं आपको बताना चाहुँगा की भारतीय रिज़र्व बैंक के पास बैंकों को करंट अकाउंट्स की पेशकश करने के लिए विशिष्ट दिशा-निर्देश हैं, इसलिए एक अच्छा अकाउंट खोलने के लिए थोड़ी खोज करें। यहाँ में ऐसे बैंको में अकाउंट खोलने की सिफारिश करूंगा जिनकी शाखाएं सभी जगह हो और वह आपके पैसों का लेन-देन बहुत आसानी से और तेज़ गति से करता हो।

ड्रॉप शिपिंग व्यवसाय के लिए हमेशा ऐसे बैंक में खाता खोलने की सोचे जिसमें विदेशों में आसानी से लेन-देन हो सकें तथा वह विदेशों की सभी मुद्राएं ट्रांसफर करने वाली कंपनियों से भुगतान भेजने और ग्रहण करने में सक्षम हो।

 

#. एक PayPal खाता खोलें

 

यदि आप ड्रॉप शिपिंग व्यवसाय से भारत में कमाई करना चाहते हैं तो आपको एक PayPal खाता खोलना आवश्यक होता हैं। क्यों की कई बार विदेशी आपूर्तिकर्ता आपको अपना माल देने के प्रति तत्काल भुगतान की मांग करते हैं।

इसके अलावा कई विदेशी आपूर्तिकर्ता सिर्फ PayPal के माध्यम से ही भुगतान के बारे में पूछेंगे। क्यों की सबसे तेज भुगतान गेटवे PayPal ही हैं। इसलिए यह प्लेटफॉर्म दुनिया भर में कारोबार करने वाले लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय है।

आपको बस एक PayPal अकाउंट खोलना होगा और उसमें अपना बैंक का खाता जोड़ना होगा। इस PayPal खाते की सारी इनफार्मेशन को अपनी साइट पर अपलोड करना होगा ताकि आपको भुगतान करने और प्राप्त करने में कठिनाई का सामना न करना पड़े। आपकी जानकारी के लिए बता दें की एक PayPal खाता खोलना बिलकुल मुफ्त हैं।

 

#. एक उत्पाद सूची बनाएं

 

यह सभी आधिकारिक और बैंक औपचारिकताएं सम्पूर्ण होने के बाद, अब आपका भारत में कारोबार शुरू करने का समय निकट आ गया हैं। आपको पहले कदम में अब ड्रॉपशीपर के रूप में उन उत्पादों की सूची को अंतिम रूप देना और आकर्षित बनाना है जिन्हें आप अधिक से अधिक बेचना चाहते हैं। यह कार्य आपके लिए काफी भ्रामक और मुश्किल हो सकता है। इसलिए आपके द्वारा सूक्ष्म निर्णय लिया जाना आवश्यक है। भ्रमित करने से तात्पर्य उन उत्पादों की पहचान करने से हैं जिनकी बिक्री आपको ऑनलाइन करनी हैं।

इस कार्य में मुश्किल यह है कि आप खुले रूप से अमेज़न और फ्लिपकार्ट जैसे बड़े ई-कामर्स दिग्गजों से भी प्रतिस्पर्धा करेंगे। साथ ही आपको अन्य ड्रॉप शिपर्स से भी मुकबला करना पड़ेगा जिनके फेसबुक, शॉपिफाई और अन्य प्लेटफॉर्म पर मार्केटप्लेस हैं।

इसलिए हमेशा ऑनलाइन सामान बेचने के लिए अधिक समय निकले और अधिक से अधिक प्रयास करें। इस कार्य में सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें हमेशा ऑनलाइन बेचने के लिए ट्रेंडिंग और सदाबहार आइटम क्या हैं।How To Earn Money From Dropshipping Business In 2020 In Hindi

 

#. भारतीय नियमों और विनियमों की जाँच करें

 

भारत में इस व्यवसाय को शुरू करने से पहले एक महत्वपूर्ण कदम उठाना होगा। आपको यह कार्य करना होगा की भारत में विभिन्न वस्तुओं के आयात और बिक्री के बारे में नियमों और विनियमों की जाँच करनी होगी।

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए की एक निश्चित आवृत्ति के ऊपर रिमोट कंट्रोल से काम करने वाले खिलौनों पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है। इसलिए जब तक वह प्रतिबंद नहीं हटता तब तक उस उत्पाद को आप अपने व्यवसाय में समिल्लित नहीं कर सकते।

इसी प्रकार किसी अन्य विदेशी देश में दवाओं के आयात पर भी सख्त नियम हैं, जिसका अर्थ है कि आप ऑनलाइन फ़ार्मेसी नहीं खोल सकते। इसके अलावा भारत में कई उत्पादों के उपयोग के लिए विभिन्न सरकारी प्राधिकरणों से बेचने से पूर्व प्रमाणन और मंजूरी की आवश्यकता हो सकती है। भारत देश में आयात के लिए प्रतिबंधित और अनुमति प्राप्त सामानों की सूची में बार-बार संशोधन किया जाता है।

इसलिए आप सुनिश्चित करें कि आपके पास उत्पादों की नवीनतम जानकारी है। इसके अलावा भारत ने चीन सहित विशिष्ट देशों के कुछ उत्पादों के आयात पर भी प्रतिबंध लगाया हुआ है। यह सबसे महत्वपूर्ण कार्य है क्योंकि बड़ी संख्या में आपूर्तिकर्ता से लेकर ड्रॉपशीपर तक चीन से संचालित होते हैं।

इसके अलावा आप उन वस्तुओं पर हमेशा आयात शुल्क की जांच करते रहें, जिन्हें आप विदेशी ड्रॉप शिपिंग आपूर्तिकर्ताओं से खरीदते हैं। स्पष्ट कारणों के लिए, आपके ग्राहक से सीमा शुल्क का भुगतान करने के लिए कहा जा सकता है, जब आपने किसी विशेष मूल्य पर ऑर्डर लिया हो।

 

#. रिटर्न नीतियों और मूल्य को अंतिम रूप दें

 

आपके व्यवसाय में आपके द्वारा आपूर्तिकर्ताओं को अंतिम रूप देने पर, अपने उत्पादों के लिए कोटेशन मांगें जिन्हें आप भारत में अपने द्वारा ड्रापशीपिंग के माध्यम से बेचना चाहते हैं। इस व्यवसाय में ग्राहक को उत्पादों की पसंद की बेहतर पेशकश करने के लिए आपको एक से अधिक सप्लायर्स से उद्धरणों को हल करना होगा।

इसके अलावा आपके साथ हमेशा यह घटना जरूर होगी की आपके आपूर्तिकर्ता आपसे औसत ऑर्डर मात्रा के लिए पूछ सकते हैं। मैं आपको इस विषय में राय देना चाहुँगा की जब तक आप बाज़ार और बैगिंग ऑर्डर के बारे में पूरी तरह सुनिश्चित नहीं होते, तब तक इस तरह के सवालों का जवाब न दें।

इसके अलावा आपको हमेशा यह सुनिश्चित करना होगा कि आपूर्तिकर्ता की रिटर्न पॉलिसी हैं या नहीं। क्यों की अक्सर जो सामान ग्राहकों को मिलते हैं वो या तो सही तरीके से काम नहीं कर रहें होते हैं या उनके विनिर्देशों को पूरा नहीं करते हैं। कभी-कभी, उचित हैंडलिंग के बावजूद शिपिंग और डिलीवरी में आइटम क्षतिग्रस्त हो सकते हैं।

अगर आपको अपना व्यवसाय अच्छे से चलाना हैं तो आप किसी ग्राहक को दोषपूर्ण, गलत या क्षतिग्रस्त उत्पाद स्वीकार करने के लिए नहीं कह सकते। इसलिए, आपके पास दो विकल्प हैं- रिटर्न स्वीकार करना और नुकसान के रूप में लिखना। या आपूर्तिकर्ता को इसे वापस लेने और मुफ्त में बदलने के लिए कह सकते है।How To Earn Money From Dropshipping Business In 2020 In Hindi

 

तो यह थे कुछ नियम और जानकारिया जिनका उपयोग करके आप भारत में एक ड्रॉपशॉपिंग व्यवसाय चालू कर सकते हैं। मैं कामना करता हूँ की यह जानकारी आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगी और आप भारत में एक सफलता पूर्ण व्यवसाय शुरू कर सकेंगे। अगर आपको यह जेकरि अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों को साझा करना न भूलें।

Visit More : भारत में मौजूद 2019 की नवीनतम नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियां

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *